WhatsApp Group Join Now
Telegram Group (490k+) Join Now

Rajasthan University New Exam Pattern 2022 राजस्थान विश्वविद्यालय कि सभी क्लासों का नया एग्जाम पैटर्न जारी

Rajasthan University New Exam Pattern 2022 राजस्थान विश्वविद्यालय कि सभी क्लासों का नया एग्जाम पैटर्न जारी: राजस्थान विश्वविद्यालय का नया एग्जाम पैटर्न जारी कर दिया गया है राजस्थान विश्वविद्यालय के द्वारा नोटिफिकेशन जारी करके एग्जाम पैटर्न जारी किया गया है जिसके अंतर्गत प्रश्न पत्रों की समाधि पाठ्यक्रम अनुसार 3 घंटे की निर्धारित है लेकिन इसके स्थान पर अब प्रति प्रश्नपत्र डेड घंटे का ही आयोजित होगा परीक्षाओं को प्रत्येक प्रश्नपत्र में कुल पूर्णांकों के 50% प्रश्न पत्र को ही हल करना होगा इसके साथ ही कई अहम और बड़े बदलाव भी किए गए हैं सबसे बड़ा बदलाव यह होता है कि एक विषय के दो पेपर आयोजित होते हैं जिसके लिए डेड डेड घंटे का दोनों पेपर के लिए समय दिया जाएगा और दोनों पेपर के बीच समय अवधि सिर्फ 10 मिनट की रहेगी यानी एक पेपर खत्म होने के 10 मिनट बाद दूसरा पेपर शुरू हो जाएगा एग्जाम पैटर्न की संपूर्ण जानकारी नीचे दी गई है।

Rajasthan University New Exam Pattern 2022
Rajasthan University New Exam Pattern 2022

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें Click

Rajasthan University New Exam Pattern 2022

किसी भी परीक्षार्थी को कक्ष छोड़ने की अनुमति नहीं होगी। उक्त तीन घण्टे की समयावधि के कला/विज्ञान संकाय के कुछ विषय के प्रश्न पत्र जिनकी संख्या दो से अधिक है, उनकी परीक्षाओं का आयोजन दो प्रश्न-पत्रों (प्रथम एवं द्वितीय प्रश्न-पत्र) का एक ही पारी में (1/2+1/= 3 घण्टे की समयावधि में) आयोजित होगी तथा शेष प्रश्न-पत्र (तृतीय प्रश्न-पत्र) की परीक्षा आगामी दिवस में डेढ़ घण्टे की समयावधि में करवायी जायेगी। जिन प्रश्न-पत्रों की समयावधि पाठ्यक्रमानुसार 1/2 घण्टे एवं 2 घण्टे निर्धारित है, उन प्रश्न-पत्रों को परीक्षार्थियों द्वारा हल करने की समयावधि 1/2 घण्टे एवं 2 घण्टे ही यथावत रहेगी एवं परीक्षार्थियों को पाठ्यक्रमानुसार कुल पूर्णाकों के अनुसार ही प्रश्नों को हल करना होगा। इसके अतिरिक्त प्रश्न-पत्र में विकल्प जैसे:- अथवा/or एवं इकाई (Unit) के अनुसार प्रश्नों को हल करने की बाध्यता नहीं होगी। उदाहरणार्थ :- 1/2 एवं 2 घण्टे के प्रश्न पत्रों की अधिकतम अंक सीमा 100, 80, 60, 50 एंव 40 निर्धारित है उन प्रश्न पत्रों को पूर्ण हल करना है उनके अंकों में कोई संशोधन नहीं किया गया है। स्नातक कला संकाय के विषय Deaf, Dumb & Blind के प्रश्न-पत्रों की समयावधि पाठ्यक्रमानुसार 4 घण्टे (चार घण्टे) निर्धारित है, के स्थान पर प्रति प्रश्न-पत्र की 2 घण्टे (दो घण्टे) समयावधि निर्धारित की जाती है तथा परीक्षार्थी को प्रत्येक प्रश्न-पत्र में से कुल पूर्णांकों के 50 प्रतिशत प्रश्न-पत्र को ही हल करना होगा।

परीक्षार्थियों को दिये गये प्रश्न-पत्र में विकल्प जैसे:-यूनिट/इकाई तथा अथवा/OR के अनुसार प्रश्नों को हल करने की बाध्यता नहीं होगी। परीक्षार्थियों को प्रत्येक प्रश्न-पत्र में से कुल पूर्णाकों के 50 प्रतिशत प्रश्न-पत्र को ही हल करना होगा। परीक्षार्थी द्वारा उक्त निर्धारित अंक सीमा से अधिक प्रश्नों को हल करने पर अतिरिक्त प्रश्नों के हल को स्वीकार नहीं किया जायेगा। ऐसी स्थिति में परीक्षार्थी द्वारा उत्तर-पुस्तिका में हल किये गये सर्वोत्तम प्रश्नों को ही निर्धारित अंक सीमा तक स्वीकार किया जायेगा। परीक्षक द्वारा मूल्यांकित किये गये 50 प्रतिशत प्रश्नों के अंकों को 100 प्रतिशत में परिवर्तित करते हुये विश्वविद्यालय द्वारा परीक्षा परिणाम घोषित किया जायेगा।

5. सत्र 2021-22 की समस्त प्रायोगिक परीक्षा विश्वविद्यालय द्वारा नियुक्त बाह्य परीक्षकों से परीक्षार्थियों के द्वारा महाविद्यालय में जमा करवाई गई फाईल/असाइनमेंट के आधार पर ही आयोजित करवाई जायेगी। इस सम्बन्ध में नियमित रूप से अध्ययनरत परीक्षार्थी सम्बन्धित महाविद्यालय/विभाग के निर्देशन में फाईल/असाइन्मेंट तैयार कर जमा करवायेंगे तथा स्वयंपाठी परीक्षार्थी आवंटित प्रायोगिक प्रशिक्षण केन्द्र के शिक्षकों के निर्देशन में फाईल/असाइन्मेंट तैयार करेंगे तथा अपनी फाईल/असाइन्मेंट प्रायोगिक परीक्षा के प्रवेश-पत्र में अंकित परीक्षा केन्द्र पर प्रायोगिक परीक्षा के प्रमाण-पत्र के साथ अनिवार्य रूप से जमा करवायेंगे। प्रायोगिक परीक्षा केन्द्र द्वारा परीक्षार्थियों (नियमित/स्वयंपाठी) की फाईल/असाइन्मेंट जमा करते समय उनकी उपस्थिति आवश्यक रूप से करवानी होगी जिसकी एक प्रति विश्वविद्यालय को प्रेषित किया जाना अनिवार्य होगा। जिन प्रायोगिक विषयों में केवल Presentation, Viva-voce & Seminar का आयोजन होता है उन विषयों की प्रायोगिक परीक्षाओं का आयोजन ऑनलाइन/ऑफलाइन प्रणाली के माध्यम से सम्बन्धित महाविद्यालय/विभाग द्वारा करवाया जाये। जिन पाठ्यक्रमों में आन्तरिक परीक्षा का आयोजन किया जाना है उन पाठ्यक्रमों में फाइल/असाईनमेन्ट/ऑन लाईन टेस्ट के आधार पर मूल्यांकित किया जायेगा।

6. परीक्षार्थियों द्वारा जमा करवाई गई फाईल/असाइन्मेंट के आधार पर प्रायोगिक परीक्षा का मूल्यांकन करने हेतु बाह्य परीक्षकों की सूची शीध्र ही विश्वविद्यालय पोर्टल www.univraj.org के कॉलेज पैनल पर अपलोड कर दी जावेगी। 7. सत्र 2021-22 की सभी परीक्षाओं में जिन प्रश्न-पत्रों में परीक्षार्थियों द्वारा हल किये गये प्रश्नों के पूर्णांक का योग, पूर्णाक के 50 प्रतिशत से अधिक होता है तो, ऐसी स्थिति में अंतिम प्रश्न के पूर्णाक को 50 प्रतिशत की सीमा तक कम करते हुए उत्तर-पुस्तिका का मूल्यांकन किया जायेगा।

अतः उपरोक्तानुसार आवश्यक कार्यवाही करते हुये परीक्षायें सम्पन्न करवायें। साथ ही परीक्षार्थियों को अपने स्तर पर आवश्यक रूप से सूचित करें।

Rajasthan University New Exam Pattern 2022 Important Links

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group (490+) Join Now

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें Click

Rajasthan University New Exam PatternRelease
Rajasthan University New Exam Pattern 2022Click Here
Official WebsiteClick Here
Join telegram/ Whatsapp GroupClick Here

Rajasthan University New Exam Pattern 2022 कब जारी किया जाएगा?

राजस्थान यूनिवर्सिटी न्यू एग्जाम पैटर्न 2022 जारी कर दिया गया है।

Rajasthan University New Exam Pattern 2022 कैसे डाउनलोड करें?

राजस्थान यूनिवर्सिटी न्यू एग्जाम पैटर्न डाउनलोड करने का डायरेक्ट लिंक ऊपर दिया गया है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top